करोड़ों का कारोबार करने वाली दुनिया की नामी टेक्‍सटाइल सिटी को झटका, कंबल सस्‍ता, धागा महंगा

... -


August 02, 2022 पानीपत, [महावीर गोयल]। टेक्‍सटाइल सिटी पानीपत इन दिनों मंदी और महंगाई की मार से जूझ रही है। मिंक कंबल की मांग में कमी के चलते कंबल उत्पादक भाव नहीं बढ़ा पा रहे। धागे के भाव बार-बार बढ़ते जा रहे हैं। जैसे ही थोड़ी मांग कंबल की निकलती है, ट्रांसपोर्टर भी भाड़ा बढ़ा देते हैं। हालही में ट्रांसपोर्टरों ने महाराष्ट्र से पोलियस्टर यार्न लाने का भाड़ा 3.10 से बढ़ाकर 4.70 रुपये किलो कर दिया है। साथ ही यह भाड़ा नेट वेट पर न लगाकर ग्रोस पर लगाया जा रहा है।

डिमांड बढ़ते ही बढ़ेंगे पोलियस्‍टर यार्न की कीमत

पोलियस्टर यार्न के भाव मिल्‍स ने तो कम नहीं किए, लेकिन ट्रेडर्स ने डिमांड न होने के कारण कम किए हुए हैं। जैसे ही डिमांड निकलेगी पोलियस्टर यार्न के भाव बढ़ जाएंगे। इन परिस्थितियों में मिंक कंबल उद्योगों को बचाने के लिए कंबल उद्यमियों ने संयुक्त रूप से फैसले लिए है।

अब आठ एसोसिएशन ने फेडरेशन बनाने का लिया फैसला

पानीपत में ज्यादातर तक कंबल की मिल आउटर में लगी हुई है। अलग-अलग क्षेत्र की आठ एसोसिएशन बनी हुई है। इन सभी ने एक फेडरेशन बनाने का फैसला लिया है।

हफ्ते में एक दिन बंद रहेंगे उद्योग

मिंक कंबल की ओवर प्रोडक्शन को देखते हुए सप्ताह में हर रविवार को 24 घंटे उद्योग बंद रखने, 18 प्रतिशत सीजन में रेट बढ़ाने, धागे की पारदर्शी पालिसी लागू करवाने, भाड़ा नेट वेट पर लगाने अथवा रेलवे से कंटनेर में पर धागा मंगवाने का फैसला लिया है।

भाव में की जाएगी वृद्ध‍ि

बापौली मिंक ब्लैंकिट एसोसिएशन के प्रधान नवीन बंसल ने बताया कि ओवर प्राडक्शन को देखते हुए प्राडक्शन कम करने का फैसला संयुक्त रूप से लिया गया है। साथ ही सीजन में भाव वृद्धि की जाएगी ताकि उद्योग नुकसान में नहीं रहे। इसके अतिरिक्त यदि ट्रांसपोर्टर नेट वेट पर माल लाने में सहमत नहीं होते तो रेलवे से कंटेनर में माल मंगवाया जाएगा। रेलवे का भाड़ा 3.65 रुपये किलो पड़़ता है। धागा मिल वालों को पारदर्शिता से काम करना होगा। आर्डर देते हुए उसकी एक प्रति मिल वालों को डीलर को देनी होगी। ताकि आर्डर रद न हो।

पानीपत में मिंक कंबल बनाने के : 120 प्लांट

रोजाना इन प्लांट में धागे की खपत: 1200 टन

कुल कारोबार : 6000 करोड़ रुपये वार्षिक

कंबल का वर्तमान दाम : 170 रुपये किलोग्राम

पोलियस्टर धागे के दाम : 120 रुपये किलोग्राम

कंबल बनाने का खर्च : 50 रुपये प्रति किलो ग्राम

इस प्रकार चार किलो का कंबल का भाव : 680 रुपये

सीजन में भाव बढ़ाकर बेचने की तैयारी : 800 रुपये

पानीपत की कुल टेक्सटाइल कारोबार

निर्यात : 18000 से 20000 करोड़ वार्षिक

घरेलू मार्केट : 45000 करोड़ से अधिक


Share to ....: 72                

Currency

World Cotton Balance Sheet

India Cotton Balance Sheet

Visiter's Status

knowledge management

Weather Forecast India

how to add shortcut on chrome homepage - www.cottonyarnmarket.net


Upload your business visiting Card:
No Image